Publisher Theme
I’m a gamer, always have been.

Delhi Police Filed Case Against Unknown People For Clash Between Farmers And Police Teams At Singhu Border – किसान आंदोलन: सिंघु बॉर्डर पर हुए बवाल में दंगा फैलाने का मामला दर्ज, किसानों ने पुलिस पर किया था पथराव

0 139

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

किसान आंदोलन के दौरान सिंघु बॉर्डर पर हुए बवाल को लेकर दिल्ली पुलिस ने अलीपुर थाने में मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ दंगा करने, सरकारी आदेश का पालन नहीं करने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। 

सिंघु बॉर्डर पर 27 नवंबर को किसानों ने बेरीकेड तोड़कर दिल्ली में प्रवेश करने की कोशिश की थी। इस दौरान किसानों और पुलिस के बीच झड़प हो गयी थी। किसानों की ओर से पथराव किया गया था। पुलिस ने किसानों पर आंसु गैस के गोले छोड़े थे। 

इस बवाल में दिल्ली पुलिस के तीन जवान को चोट लगी थी और एक सब इंस्पेक्टर तलवार लगने से घायल हो गया था। केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली के बॉर्डर पर जमे हुए हैं। सोमवार को लगातार पांचवें दिन किसान बॉर्डर पर मौजूद हैं और सरकार से बातचीत करने के लिए जंतर मंतर पर जाने के लिए अड़े हुए हैं। 

किसानों ने दिल्ली में प्रवेश के तीन रास्तों पर डेरा डाले हुए है। हालांकि सरकार ने किसानों को बुराड़ी के निरंकारी मैदान में प्रदर्शन करने की इजाजत दे दी थी। 
कुछ किसान बुराड़ी मैदान पहुंच गये, लेकिन ज्यादातर किसान बॉर्डर पर ही जमे रहे। अब किसानों ने चेतावनी दी है कि उनकी बात नहीं सुनी गयी तो वह दिल्ली को अन्य राज्यों से जोडने वाले रास्तों को बंद कर देंगे। इसी बीच दिल्ली पुलिस ने किसान आंदोलन के पहले दिन सिंघु बॉर्डर पर हुए बवाल को लेकर मामला दर्ज कर लिया है। 

किसान आंदोलन के दौरान सिंघु बॉर्डर पर हुए बवाल को लेकर दिल्ली पुलिस ने अलीपुर थाने में मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ दंगा करने, सरकारी आदेश का पालन नहीं करने और सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने सहित अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। 

सिंघु बॉर्डर पर 27 नवंबर को किसानों ने बेरीकेड तोड़कर दिल्ली में प्रवेश करने की कोशिश की थी। इस दौरान किसानों और पुलिस के बीच झड़प हो गयी थी। किसानों की ओर से पथराव किया गया था। पुलिस ने किसानों पर आंसु गैस के गोले छोड़े थे। 

इस बवाल में दिल्ली पुलिस के तीन जवान को चोट लगी थी और एक सब इंस्पेक्टर तलवार लगने से घायल हो गया था। केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली के बॉर्डर पर जमे हुए हैं। सोमवार को लगातार पांचवें दिन किसान बॉर्डर पर मौजूद हैं और सरकार से बातचीत करने के लिए जंतर मंतर पर जाने के लिए अड़े हुए हैं। 

किसानों ने दिल्ली में प्रवेश के तीन रास्तों पर डेरा डाले हुए है। हालांकि सरकार ने किसानों को बुराड़ी के निरंकारी मैदान में प्रदर्शन करने की इजाजत दे दी थी। 

Source link

Copy

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!